Author Archives: patriotindians

क्या वर्णवाद सोसिओपैथ्स की संरक्षण करता है?

सोसिओपैथ शब्द के वारे में बहुत कम लोग जानते होंगे लेकिन आप की जिंदगी में और आपके आसपास वह हमेशा होते हैं । ऐसे भी होसकता आपके फैमिली मेंबर भी में कोई सोसिओपैथ हो । आपने बहुत सारे चैनल में … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment

अगर बुद्ध विष्णु का अवतार हैं कभी ब्राह्मणों को बुद्ध की पूजा करते देखा है?

इंडिया का बुद्ध सभ्यता हमारा देश का नाम ना भारत था, ना हिन्दुस्तान था, ना इंडिया; ये विशाल भूखंड सदियों छोटे बड़े राज्यों का मिश्रित समूह रहा, ये भूखंड समय के साथ राजाओं के राज से जाना जाता था । … Continue reading

Posted in Uncategorized | Tagged | Leave a comment

भारत की खोज

हमारा देश का नाम ना भारत था, ना हिन्दुस्तान था, ना इंडिया; ये भूखंड सदियों छोटे बड़े राज्यों का मिश्रित समूह रहा, ये भूखंड समय के साथ राजाओं के राज से जाना जाता था. ये भूखंड अनेक भाषीय सभ्यता का … Continue reading

Posted in Uncategorized | Tagged | Leave a comment

इंडिया का सबसे बड़ा अंधविश्वास और मानसिक विकृति

बिना सोचे समझे जिस पर बिलीव या भरोसा/विश्वास किया जाता है उसे हम ब्लाइंडबिलीव यानी अंध विश्वास कहते हैं. अगर हम ये जानते हैं जिस पर हम बिलीव या भरोसा/विश्वास कर रहे हैं वह एक ब्लाइंडबिलीव यानी अंध विश्वास है … Continue reading

Posted in Uncategorized | Tagged | Leave a comment

भारत क्या है?

हिंदी क्या है? कभी इसकी खोज की है? हिंदी या हिन्दू शब्द का उत्पत्ति कहाँ से हुई है कभी आपने इसको जानने की कोशिश की है? चलिए इस लेख में इसकी खोज करते हैं और जानते है ये हिंदी या … Continue reading

Posted in Uncategorized | Tagged | Leave a comment

Why should we recognized as Hindus by Brahmins?

Brahmins are maintaining a curse to all linguistic races naming a social identity Hindu. Though Hindu word can’t be found in any religious scriptures composed in this demography. Hindu word adopted by root natives of India by only impositions and … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment

If Padmini had existed, she would have a Buddhist princess not a Vedic/Hindu follower.

Fictional Padmavati was Buddhist Princess Padmini, also known as Padmavati, was a legendary 13th–14th century Indian queen (Rani). The earliest source to mention her is Padmavat, an epic fictionalized poem written by Malik Muhammad Jayasi in 1540 CE. The text, … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment